October 28, 2020

हरा धनिया 1000 के पार : आलू-टमाटर के तेवर भी तीखे, प्याज रुलाने को बेकरार

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना ने जहां लोगों की सेहत और वित्तीय सेहत खराब कर रखी है तो वहीं महंगाई कोढ़ में खाज का काम कर रही है। आम लोगों की थाली में सब्जियां अब कम होने लगी हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह जरूरी चीजों में शामिल सब्जियों की कीमतों में बेहताशा वृद्धि। लॉकडाउन के दौर में तो बैकडोर से कालोनियों में पहुँच रहे आलू, प्याज और टमाटर लोगों के आंसू तो निकाल ही रहे हैं, अब रही सही कसर हरा धनिया निकाल रहा है। हरे धनिए के दाम 1000 रुपये किलो पर पहुंच गए हैं। मतलब 50 रुपये से कम का धनिया आपको नहीं मिलेगा। 

बीते एक महीने के दौरान प्याज की कीमतें दोगुनी हो चुकी है। टमाटर कई जगहों पर शतक लगा रहा है, आलू हॉफ सेंचुरी पार कर चुका है और प्याज पचासे की ओर बढ़ रहा है। यूँ तो राजधानी में सहित कई जिलों में कम्प्लीट लॉकडाउन हैं। कई जिलों में सब्जी किराने की दुकाने तक बंद हैं। ऐसे में आलू  60, प्याज 50 और टमाटर 80 से 100 रुपये बिक रहा। वहीं हरी सब्जियां भी अब लाल हो गई हैं। पिछले एक हफ्ते में गोभी,तोरई, भिंडी, परवल के रेट में 20 से 40 फीसद तक बढ़ोतरी हुई है। 

error: Content is protected !!