January 16, 2021

शिक्षा सत्र में नहीं खुले स्कूल : स्थानीय परीक्षाओं में जनरल प्रमोशन के संकेत

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के चलते इस शिक्षा सत्र में शायद ही स्कूलों की घंटी बजे। परिस्थितियों को देखते हुए इस बार  पहली से आठवीं और 9वीं व ग्याहरवीं तक जनरल प्रमोशन दिए जाने के संकेत मिल रहे  हैं। हालांकि इस पर कोई आधिकारिक निर्णय अब तक नहीं लिया गया हैं।  आज कैबिनेट की बैठक में स्कूल खोले जाने को लेकर लिए जाने वाले निर्णय के बाद ही शिक्षा विभाग किसी अंतिम नतीजे पर पहुंचेगा। 


 बता दें कि कोरोना संक्रमण की वजह से शिक्षा सत्र में अब तक एक भी दिन स्कूल नहीं खुले हैं। स्कूल बंद होने की वजह से ऑनलाइन पढ़ाई जरूर करायी जा रही है लेकिन इसमें आधे विद्यार्थी भी शामिल नहीं हो रहे हैं। यह भी पता नहीं चल पा रहा है कि कौन शामिल हो रहे हैं और कौन नहीं? घर में पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों के आंतरिक मूल्यांकन का सिस्टम भी नहीं बन सका ताकि उसके माध्यम से परीक्षा ली जा सके। ऐसी दशा में इस साल फिर पिछले सत्र की तरह 9वीं-11वीं में जनरल प्रमोशन के संकेत हैं। 


स्कूल शिक्षा विभाग ने पिछले सत्र में कोरोना संक्रमण की वजह से पहली से आठवीं और 9वीं व 11वीं के छात्रों को जनरल प्रमोशन दिया गया था। राज्य में आमतौर पर मार्च-अप्रैल में विभिन्न कक्षाओं की वार्षिक परीक्षा आयोजित की जाती हैं, लेकिन इस बार स्कूलों में पढ़ाई को लेकर ही अनिश्चितता की स्थिति बनी हुई है। 


ऐसे में परीक्षा के आयोजन पर ही संशय की स्थिति बन गई है। यही वजह है कि शिक्षाविद् मान रहे हैं कि इस बार भी पहली से आठवीं और 9वीं व ग्याहरवीं में जनरल प्रमोशन दिया जा सकता है। 
दसवीं-बारहवीं के सिलेबस के अनुसार छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई करायी जा रही है। पढ़ाई के अनुसार ही विद्यार्थियों को हर महीने असाइनमेंट दिए जा रहे हैं। प्रत्येक असाइनमेंट के लिए नंबर निर्धारित किए गए हैं। 


छात्र हर महीने अपना-अपना असाइनमेंट जमा कर रहे हैं। स्कूलों में असाइनमेंट का मूल्यांकन करवाया जा रहा है। इस तरह दसवीं-बारहवीं के विद्यार्थियों के आंतरिक मूल्यांकन का सिस्टम बना हुआ है। असाइनमेंट के आधार पर आंतरिक मूल्यांकन कर उनके नतीजे जारी किए जा सकते हैं। लेकिन अन्य कक्षाओं में ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की जा सकी है। इसलिए ये माना जा रहा है कि कोरोना संक्रमण को लेकर कुछ महीनों तक ऐसी ही स्थिति बनी रही तो दसवीं-बारहवीं को छोड़कर अन्य कक्षाओं में जनरल प्रमोशन दिया जा सकता है। 

बहरहाल कोरोना की दूसरी और तीसरी लहर के मद्देनजर सरकार भी स्कूल खोले जाने का रिस्क नहीं लेना चाहती।  इसलिए दसवीं-बारहवीं को छोड़कर शेष परीक्षाओं में जनरल प्रमोशन दिए जाने के पुख्ता संकेत मिल रहे हैं। 

error: Content is protected !!