August 2, 2021

तिरुपति से लापता हुआ गरियाबंद का शिवम विजयवाड़ा में मिला

गरियाबंद/ विजयवाड़ा।  तिरुपति से अपहरण किए गए 6 साल के शिवम साहू को आखिरकार आंध्र प्रदेश पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है. अपने परिवार वालों के साथ शिवम तिरुपति दर्शन के लिए गया हुआ था. जहां 27 फरवरी को तिरुपति बस स्टैंड से उसका अपहरण कर लिया गया था. शनिवार को विजयवाड़ा से आंध्र प्रदेश पुलिस ने शिवम साहू को बरामद किया. फिलहाल अपहरण किसने किया, क्यों किया इस मामले का खुलासा होना बाकी है.

शनिवार की शाम आंध्र प्रदेश पुलिस को विजयवाड़ा बस स्टैंड पर शिवम साहू मिला. जिसके बाद पुलिस ने उसे चाइल्ड लाइन को सौंप दिया है. मामले की सूचना तुरंत तिरुपति अर्बन पुलिस और शिवम के माता-पिता को दे दी गई है.

सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने अपहरणकर्ता की पहचान शिवप्पा के रूप में की गई है. जो आंध्र प्रदेश के चितौड़ जिले का रहने वाला है. अपहरणकर्ता शिवम को विजयवाड़ा में छोड़कर चल गया. चाइल्डलाइन के अधिकारी शिवम साहू को उनके माता-पिता को सौपेंगे. रविवार सुबह शिवम को लेकर चाइल्डलाइन की टीम तिरुपति पहुंचेगी. बहरहाल पूरा खुलासा होना बाकी है.

इस मामले में छत्तीसगढ़ के गृह मंत्री ने भी आंध्र प्रदेश पुलिस से चर्चा की थी. वहीं गरियाबंद के एसपी भी लगातार आंध्र प्रदेश पुलिस के संपर्क में बने हुए थे. बच्चे की सकुशल वापसी के लिए जगह-जगह दुआएं भी की जा रही थी. शनिवार को विजयवाड़ा से शिवम के मिलने की खबर ने परिवार वालों में खुशी लौट आई.

छत्तीसगढ़ के लिए अच्छी खबर निकलकर आंध्र प्रदेश से सामने आई है. जिस मासूम शिवम के अपहरण की घटना की चर्चा पूरे प्रदेश में थी. बीते 15 दिन से उसके नहीं मिलने के चलते लोग उसके लिए दुआएं कर रहे थे. शनिवार को आंध्र प्रदेश पुलिस ने शिवम विजयवाड़ा में मिला.

पीड़ित बच्चे के पिता का मानना है कि छत्तीसगढ़ सरकार खासकर गृह मंत्री के आंध्र प्रदेश पुलिस से संपर्क करने और निवेदन करने के चलते आंध्र प्रदेश पुलिस लगातार इस मामले में सक्रिय रहे और इसी का परिणाम है कि उनका बच्चा मिल पाया है. बच्चा मिलने की पुष्टि उसके पिता उत्तम साहू और तिरुपति पुलिस के अधिकारी मुरली कृष्णा ने की है.

शिवम साहू के मिलने की खबर के बाद पांडुका के कुरूद गांव में शिवम के घर में काफी खुशी का माहौल देखा जा रहा है. घर पर मिलने वालों का तांता लग गया है.इन सबके बीच खुशी के बावजूद मां के आंसू थम नहीं रहे. शिवम की मां ने बच्चे के मिलने पर छत्तीसगढ़ सरकार खासकर गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू और गरियाबंद के एसपी भोजराम पटेल का आभार व्यक्त किया है. उन्होंने कहा सब की दुआएं और सरकार का प्रयास कामा आया. आंध्र प्रदेश पुलिस की मेहनत से शिवम विजयवाड़ा में मिला।

शिवम के पिता ने बताया कि वह पूरी तरह संतुष्ट हैं. तीन बार वीडियो कॉलिंग से बच्चे से बात हो चुकी है. 100% उनका ही बच्चा है. पहचान बदलने के प्रयास से अपहरणकर्ताओं ने उसका मुंडन कर दिया गया था. परिवार, गांव वालों के साथ-साथ छत्तीसगढ़ में शिवम के लिए दुआएं की गई थी. बच्चे के मिलने पर काफी खुशी देखी जा रही है.

क्या था मामला?

गरियाबंद के कुरूद गांव से 58 दर्शनार्थियों को लेकर 27 फरवरी को एक बस तिरुपति बालाजी गई थी. इसी बस में गांव में शिक्षक उत्तम साहू भी परिवार के साथ गए थे. सभी लोग वहां पहुंचने के बाद बस स्टैंड पर ही खाना खा रहे थे. इसी बीच रात करीब 9 बजे उनका 6 साल का बेटा शिवम अचानक लापता हो गया. बच्चे को वहां नहीं देख परिजनों और दोस्तों ने आसपास काफी तलाश किया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला था. स्थानीय तिरुपति सिटी थाने में FIR के बाद भी बच्चे का पता नहीं चलने पर परिजनों ने छत्तीसगढ़ सरकार से मदद की गुहार लगाई थी. वहीं गरियाबंद एसपी भी लगातार आंध्र प्रदेश पुलिस के लगातार संपर्क में थे. आंध्र प्रदेश पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज भी जारी किए थे. जिसमें अपहरणकर्ता शिवम को ले जाते दिखे थे.

error: Content is protected !!