September 26, 2021

छत्तीसगढ़ का पहला कैशलेस और पेपरलेस स्वास्थ्य केंद्र बना गुढ़ियारी

रायपुर । छत्तीसगढ़ की राजधानी में गुढ़ियारी स्थित शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सूबे के पहले मॉडल स्वास्थ्य केंद्र के रूप में स्थापित हो चुका है। कैशलेस और पेपरलेस इस अस्पताल में मरीजों को सुविधाएं भी मिलनी शुरू हो गई हैं। कंप्यूटरीकृत इस अस्पताल में मरीजों का डाटा भी डिजिटल प्लेटफार्म पर रखा जा रहा है, ताकि इलाज के लिए आने पर उसकी पूरी जानकारी उपलब्ध हो। रायपुर के  सीएमएचओ डॉ. मीरा बघेल के मुताबिक़ गुढ़ियारी स्वास्थ्य केंद्र को योजना के तहत मॉडल बनाया गया है। इसमें सभी तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं। अभी औपचारिक रूप से इसका उद्घाटन करना बाकी है।

आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन द्वारा पायलेट प्रोजेक्ट के तहत राजधानी के चार स्वास्थ्य केंद्रों का चयन कर अस्पताल को मॉडल बनाने की योजना बनाई गई। इसमें गुढ़ियारी, राजातालाब, भाटागांव और भनपुरी स्वास्थ्य केंद्र का चयन किया गया। इसमें गुढ़ियारी में योजना का क्रियान्वयन कर लोगों के लिए सेवाएं शुरू कर दी गई हैं। वहीं तीन स्वास्थ्य केंद्रों में अभी काम चल रहा है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जिला अस्पताल में शुक्रवार को हमर लैब के शुभारंभ के साथ ही गुढ़ियारी के मॉडल स्वास्थ्य केंद्र का भी शुभारंभ कराने का प्लान था, लेकिन सीएम को समय नहीं मिल पाने की वजह से इस स्वास्थ्य केंद्र को औपचारिक उद्घाटन का इंतजार है।

गुढ़ियारी स्वास्थ्य केंद्र के बीएमओ डॉ. मनोज बर्मन ने बताया कि गुढ़ियारी स्वास्थ्य केंद्र में पेपर लैस और कैशलेस सुविधाएं शुरू कर दी गई है। यहां हर दिन लगभग 100 मरीज इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। मरीजों को एक्सरे, दंत चिकित्सा, नेत्र चिकित्सा सहित 42 तह के टेस्ट की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। कुछ सुविधाएं शुरू नहीं हो पाई है। उसे भी जल्द शुरू किया जाएगा।

गुढ़ियारी स्थित हमर अस्पताल में 42 तरह के लैब टेस्ट, दंत चिकित्सा, सोनोग्राफी, एक्स-रे, 154 तरह की नि:शुल्क दवाएं, नेत्र चिकित्सा जैसी बच्चों के लिए प्ले ग्राउंड जैसी कई तरह की सुविधाएं पहली बार लोगों को लिए स्वास्थ्य केंद्र स्तर पर दिया जा रहा है। इसके साथ ही आदर्श टीकाकरण केंद्र भी बनाया गया है। हालांकि कुछ सुविधाएं मैनपावर व अन्य दिक्कतों की वजह से अभी लोगों को इंतजार करना पड़ सकता है।

error: Content is protected !!