July 9, 2020

2011 World Cup के फाइनल मैच को ‘बेचे’ जाने पर श्रीलंका ने दिए आपराधिक जांच के आदेश

हैदराबाद।  श्रीलंका ने 2011 में खेले गए क्रिकेट विश्व कप के फाइनल को भारत को बेचे जाने के आरोपों की आपराधिक जांच का आदेश दिया है।  खेल मंत्रालय के सचिव केडीएस रुवाचंद्र ने इस बाबत कहा कि एक आपराधिक जांच शुरू हो गई है।  इसे (पुलिस) स्वतंत्र विशेष जांच इकाई द्वारा खेल संबंधी अपराधों के तहत जांच किया जाएगा। 

आपको बता दें कि पूर्व खेल मंत्री महिंदानंद अलुथगामगे ने इस महीने की शुरुआत में कहा था कि श्रीलंका ने भारतीय जीत सुनिश्चित करने के लिए मैच को बेच दिया था. उन्होंने कहा था, “मुझे लगता है मैं अब इसके बारे में बात कर सकता हूं. मैं खिलाड़ियों को नहीं कह रहा हूं, लेकिन कुछ वर्गों को शामिल किया गया था.”

गौरतलब है कि श्रीलंका के 1996 के विश्व कप विजेता कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने भी परिणाम पर संदेह किया और एक जांच की मांग रखी है.

श्रीलंका की मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, 2011 के फाइनल के लिए पूर्व कप्तान और मुख्य चयनकर्ता, अरविंदा डी सिल्वा को जांचकर्ताओं के साथ साक्षात्कार के लिए बुलाया गया है। 

आपको बता दें कि साल 2011 में मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में भारत के साथ खेले गए वर्ल्ड कप फाइनल में श्रीलंका को छह विकेट से हार झेलनी पड़ी थी और भारत दूसरी बार विश्व विजेता बना था।   

error: Content is protected !!