September 29, 2020

बाबरी विध्वंस मामले में 30 सितंबर को आएगा फैसला

अयोध्या।  बाबरी मस्जिद ढांचा विध्वंस मामले में लंबे समय के बाद बुधवार को लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत ने फैसला सुनाने की तारीख तय कर दी है. मामले में 30 सितंबर को फैसला सुनाया जाएगा. 30 सितंबर के फैसले के बाद यह तय हो पाएगा कि इस मामले में कौन-कौन अभियुक्त दोषी हैं और कौन-कौन से अभियुक्त निर्दोष। 

इस मामले में वरिष्ठ बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी 24 जुलाई को लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत के सामने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश हुए थे. सुनवाई के दौरान अदालत ने आडवाणी से 100 से अधिक सवाल पूछे थे.

भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, यूपी के पूर्व सीएम कल्याण सिंह, विनय कटियार और साध्वी ऋतंभरा समेत 32 लोग आरोपी हैं. 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस गिराए जाने के मामले लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत में चल रही सुनवाई अब पूरी हो चुकी है. जिसके बाद अब सीबीआई की विशेष अदालत ने 30 सितंबर को फैसला सुनाएगी.

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत को 31 अगस्त 2020 तक इस मामले में फैसला सुनाने का निर्देश दिया था.

error: Content is protected !!