October 31, 2020

आंकड़ों का खेल कर बेरोजगारी कम करने का दावा कर रही है भूपेश सरकार: सच्चिदानंद उपासने

रायपुर।  छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी की दर काफी कम रही है. देश में असम के बाद सबसे कम बेरोजगार छत्तीसगढ़ में है. इस आंकड़े के जारी होने के बाद बीजेपी ने सरकार को आड़े हाथों लिया है. बीजेपी का आरोप है कि राज्य सरकार आंकड़ों का खेल कर बेरोजगारी कम करने के दावे कर रही है, जबकि हकीकत उससे अलग है. 


बीजेपी के वरिष्ठ नेता सच्चिदानंद उपासने का कहना है कि राज्य सरकार ने जो भी संभावित आंकड़े पेश किए गए हैं. उस आधार पर यह बेरोजगारी की दर कम दिखाई जा रही है. उनका आरोप है कि यह सारा आंकड़ों का खेल है. जबकि हकीकत इससे बिल्कुल विपरीत है. उपासने ने कहा कि आज भी प्रदेश के बेरोजगार मुख्यमंत्री निवास के सामने आत्महत्या कर रहे हैं. आज भी प्रदेश में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या है बावजूद इसके सरकार सिर्फ संभावित आंकड़ों के दम पर प्रदेश में बेरोजगारी कम होने के दावे कर रही है.


छत्तीसगढ़ में बेरोजगारी की दर सितंबर 2020 में घटकर 2 फीसदी रह गई है, जो राष्ट्रीय स्तर पर देश में बेरोजगारी की दर 6.8 फीसदी से काफी कम है. देश में शहरी क्षेत्रों में यह दर 7.9 फीसदी और ग्रामीण क्षेत्रों में 6.3 फीसदी रही. सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (सीएमआईई ) ने 16 अक्टूबर को जारी बेरोजगारी की दर के ताजा आंकड़ों के अनुसार बेरोजगारी की दर असम में 1.2 फीसदी के बाद छत्तीसगढ़ में सबसे कम 2 फीसदी है. जो देश में के बड़े और विकसित राज्यों से काफी कम है. 

error: Content is protected !!