July 9, 2020

छत्तीसगढ़ का युवा आत्महत्या करने के लिए मजबूर, सीएम को इसकी चिंता करनी चाहिए : रमन सिंह

रायपुर।  छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में सोमवार की दोपहर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास के बाहर धमतरी के रहने वाले युवक हरदेव ने बेरोजगारी और आर्थिक तंगी से परेशान होकर आत्मदाह की कोशिश की, हरदेव सिन्हा सीएम हाउस पहुंचकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मिलना चाहता था लेकिन मुलाकात नहीं होने के कारण परेशान युवक ने खुद को आग के हवाले कर दिया।  इस मामले पर पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा है कि प्रदेश की हालत यह हो गई है कि कांग्रेस साइकिल में घूम कर प्रदर्शन कर रही है और युवा रोजगार के लिए दर-दर भटक रहे हैं. 

पूर्व सीएस रमन सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ का युवा बेरोजगारी से त्रस्त होकर बार-बार बेरोजगारी भत्ते और नौकरी के अवसर की मांग कर रहा है, लेकिन सरकार ने सारे दरवाजे बंद कर दिए हैं. ये युवा गरीबी से तंग आकर मुख्यमंत्री के दरवाजे के सामने प्रदर्शन कर रहे हैं, मिट्टी तेल और पेट्रोल डालकर आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे है। रमन सिंह ने आगे कहा कि इस विषय पर मुख्यमंत्री को समीक्षा करनी चाहिए कि छत्तीसगढ़ का युवा परेशान क्यों है, और छत्तीसगढ़ का युवा आत्महत्या करने के लिए मजबूर क्यों हो रहा है. सीएम को इसकी चिंता करनी चाहिए.


धमतरी के तेलिनसत्ती गांव के रहने वाले हरदेव ने बेरोजगारी और आर्थिक तंगी से परेशान होकर सीएम हाउस के सामने आत्मदाह की कोशिश की. खबरें आईं कि वो मानसिक तौर पर ठीक नहीं है लेकिन परिवार ने इससे साफ इनकार कर दिया. हरदेव की पत्नी ने कहा कि वो मानसिक तौर पर बीमार नहीं, पैसों के लिए परेशान था. घर में खाने को दाना नहीं है. पड़ोसियों से चावल मांगकर रविवार तक गुजारा हुआ है. सोमवार को वो बिना बताए घर से निकल गया फिर आत्मदाह की कोशिश की खबर घर पहुंची. 

error: Content is protected !!