May 15, 2021

मदद : दिवंगत साथी के बेटे के लिये छत्तीसगढ़ IAS एसोसिएशन ने जुटाये 10 लाख रुपये

रायपुर। छत्तीसगढ़ के IAS अधिकारियों ने अपने दिवंगत साथी चंद्रकात उइके के पुत्र की उच्च शिक्षा के लिये 10 लाख रुपये की रकम जुटाई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज दिवंगत अधिकारी की पत्नी को इस रकम का चेक प्रदान किया। छत्तीसगढ़ IAS एसोसिएशन के अध्यक्ष सीके खेतान ने चंद्रकांत उइके की पत्नी को द्वितीय श्रेणी पद पर अनुकंपा नियुक्ति देने की मांग भी रखी।

छत्तीसगढ़ कैडर के IAS अधिकारी चंद्रकांत उइके का 4 दिसम्बर 2019 को निधन हो गया था। वे पैन्क्रियाज कैंसर से पीड़ित थे। राज्य प्रशासनिक सेवा से प्रमोट होकर 2015 में भारतीय प्रशासनिक सेवा में आये चंद्रकांत उइके राज्य सरकार के कई महत्वपूर्ण पदों पर तैनात रह चुके थे। निधन के समय उइके के पास समाज कल्याण विभाग के संचालक की जिम्मेदारी थी। इस समय उनका बेटा 12वीं में पढ़ रहा है। उनकी शोक सभा के लिये हुई छत्तीसगढ़ IAS एसोसिएशन की बैठक में तय हुआ था कि वह उइके के बेटे की उच्च शिक्षा में मदद के लिए रकम जुटाएगी।

आज एसोसिएशन के अध्यक्ष सीके खेतान और दिवंगत चंद्रकांत उइके की पत्नी रमा उइके ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने एसोसिएशन की ओर से मदद का चेक रमा उइके को प्रदान किया। राजस्व मंडल के अध्यक्ष सीके खेतान ने चंद्रकांत उइके की पत्नी के अनुकंपा नियुक्ति की मांग की। उनका कहना था, वे M.COM., LLB की शैक्षणिक योग्यता रखती हैं, उन्हें महिला एवं बाल विकास अथवा आदिम जाति विकास विभाग में द्वितीय श्रेणी के किसी पद पर नियुक्ति दी जा सकती है।

IAS एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री सहायता कोष के लिए भी 95 हजार रुपये का चेक सौंपा है। कोरोना काल के शुरुआती दौर में भी एसोसिएशन की ओर से इस काेष में अप्रेल, मई और जून महीने में एक दिन का वेतन दिया गया था।

error: Content is protected !!