May 15, 2021

रायपुर : सरकारी स्कूलों में 9वीं और 11वीं की परीक्षाएं अब ऑनलाइन होंगी, मोबाइल पर भेजे जाएंगे प्रश्नपत्र….

रायपुर। राजधानी में अब छत्तीसगढ़ बोर्ड के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में 9वीं-11वीं की परीक्षाएं ऑनलाइन ली जाएंगी। कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए शिक्षा विभाग ने फिलहाल रायपुर में 9वीं-11वीं की परीक्षाएं स्कूल में आयोजित नहीं करने का फैसला किया है।

अब स्कूल प्रबंधन अपने-अपने स्तर पर परीक्षाएं लेंगे। तारीख से लेकर समय सब स्कूल प्रबंधन ही तय करेंगे। सीबीएसई के स्कूलों में ऑनलाइन परीक्षा का निर्णय पहले ही लिया जा चुका है।

शिक्षा विभाग के अफसर अब तक इसलिए ऑनलाइन परीक्षा से पीछे हट रहे थे, क्योंकि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले ज्यादातर बच्चों के पैरेंट्स के पास स्मार्ट फोन नहीं है। दूरस्थ ग्रामीण इलाकों में नेटवर्क की समस्या भी रहती है। इसलिए भी परीक्षाएं ऑफलाइन लेने की तैयारी थी। मार्च के शुरुआती दिनों से अचानक ही कोरोना के केस बढ़ गए हैं। इस वजह से अब स्कूल में परीक्षाएं आयोजित करना जोखिम भरा हो गया है।

स्थिति को देखते हुए फिलहाल रायपुर में सीजी बोर्ड के स्कूलों में परीक्षाएं ऑन लाइन लेने का निर्णय हुआ है। अफसरों के अनुसार बाकी जिलों में स्थिति की समीक्षा के बाद निर्णय लिया जा सकता है। शिक्षा विभाग के अफसरों ने संकेत दिए हैं कि नवमीं-ग्यारहवीं की सीजी बोर्ड की परीक्षा इस महीने के तीसरे पखवाड़े से शुरू की जा सकती है।

ऑनलाइन परीक्षा के लिए पैरेंट्स के स्मार्ट फोन पर प्रश्नपत्र भेज जाएंगे। उनके जवाब छात्रों को घर से लिखकर स्कूल में जमा करना होगा। ऑनलाइन परीक्षा के लिए स्कूल प्रबंधन को पूरी तरह से फ्री हैंड कर दिया गया है। वे अपनी सुविधा के अनुसार टाइम टेबल तय करेंगे।

परीक्षा के बाद पर्चे जांचने से लेकर रिजल्ट जारी करने तक सबकुछ स्कूल प्रबंधन काे करना होगा। पिछले साल कोरोना संक्रमण की वजह से मार्च 2020 में स्कूल बंद हुए थे। करीब 11 महीने के बाद 15 फरवरी 2021 को 9वीं-11वीं के लिए स्कूल खोले गए। कोरोना का डर अभी खत्म नहीं हुआ। इसलिए शुरुआत से ही स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति कम रही।

सीबीएसई से जुड़े कई प्राइवेट स्कूलों में नवमीं-ग्याहरवीं की परीक्षा ऑनलाइन आयोजित की जा रही है, जबकि स्कूल खुलने के बाद अधिकांश निजी स्कूल ने ऑफलाइन परीक्षा लेने की तैयारी में थे। स्कूलों में छात्रों की उपस्थिति बेहद कम रही।

करीब 15 दिन स्कूल खुलने के बाद भी जब उपस्थिति नहीं बढ़ी और कई स्कूलों में छात्रों के पैरेंट्स ने ऑफ लाइन परीक्षा का विरोध कर दिया, तब कई निजी स्कूलों ने ऑनलाइन परीक्षा लेने की घोषणा की। उसके बाद लगभग सभी प्राइवेट स्कूलों ने ऑफलाइन परीक्षा का फैसला बदल दिया। अब सीजी बोर्ड के सरकारी स्कूल भी ऑनलाइन परीक्षा लेंगे।

error: Content is protected !!