February 25, 2021

रॉयल बंगाल टाइगर वसुंधरा की मौत, मैत्री बाग में 6 साल में 6 बाघों की मौत

दुर्ग ।  छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में स्थित मैत्रीबाग में अब रॉयल बंगाल टाइगर वसुंधरा की दहाड़ सुनाई नहीं देगी. शुक्रवार दोपहर उसने अंतिम सांसें ली. बाघिन पिछने कई दिनों से बीमार चल रही थी. अब मैत्री बाग में सिर्फ एक ही रॉयल बंगाल टाइगर बचा हुआ है. वसुंधरा में खून की कमी और कमजोरी के चलते मौत होना बताया जा रहा है. 

बाघिन का अंतिम संस्कार जू प्रबंधन ने वन विभाग की मौजूदगी में किया. जिसमें डीएफओ,एसडीओ, डिप्टी रेंजर सहित अन्य स्टाफ शामिल रहे. मैत्री बाग परिसर में ही बाघिन का अंतिम संस्कार किया गया. मैत्रीबाग में 6 साल में 6 बाघों की मौत हो चुकी हैं.

मृत बाघिन वसुंधरा का जन्म मैत्री बाग में ही हुआ था. वर्तमान में मैत्री बाग में केवल एक ही रॉयल बंगाल टाइगर रह गया है. मृत बाघों में रायल बंगाल टाइगर, सफेद बाघिन कमला, सफेद बाघ सुंदर, सफेद बाघ सतपुड़ा और अब रायल बंगाल टाइगर सतपुड़ा, रॉयल टाइगर वसुंधरा शामिल है. वसुंधरा की उम्र करीब 10 साल थी.बाघों की आयु 12 से 13 साल होती है. इससे पहले भी सतपुड़ा नाम की रॉयल टाइगर की कैंसर से मौत हुई थी. 

error: Content is protected !!