July 7, 2022

हमने आज सरकार का आदेश तोड़ दिया, बिना अनुमति लिए किया प्रदर्शन, गिरफ्तारियां भी दीं : धरमलाल कौशिक

०० बिलासपुर में भाजपाई ने पुलिसकर्मी को जड़ा तमाचा, विरोध प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं व पुलिस के बीच हुई जमकर झूमाझटकी

रायपुर| बिलासपुर में भाजपा नेताओं ने सरकार के धरना-आंदोलन की अनुमति लेने जारी आदेश के खिलाफ रैली निकालकर प्रदर्शन कर किया। नारेबाजी करते हुए कार्यकर्ता आगे बढ़े तब उन्हें कलेक्टाोरेट से पहले ही रोक दिया गया। इस दौरान भाजपाई और पुलिसकर्मियों के बीच धक्कामुक्की शुरू हो गई। एक कार्यकर्ता ने पुलिसकर्मी को तमाचा जड़ दिया, जिससे पुलिसकर्मी भी भड़क गए। विरोध प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झूमाझटकी हुई। इससे पहले नेहरु चौक में आयोजित सभा में विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला, उन्होंने कहा कि सरकार के खिलाफ प्रदेश की जनता का आक्रोश भड़क रहा है। जिस तरह से सरकार ने उन्हें धोखा दिया है। उसी तरह आने वाले विधानसभा में जनता भी उन्हें सबक सिखाने के लिए तैयार है।

जेल भरो आंदोलन के पहले भाजपा नेता व संगठन पदाधिकारी अपने-अपने इलाकों से कार्यकर्ताओं की रैली लेकर नेहरु चौक पहुंचें। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक परसदा स्थित अपने निवास से कार्यकर्ताओं के साथ नेहरु चौक पहुंचे। पूर्व मंत्री अमर अग्रवाल, मस्तूरी विधायक डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी, बेलतरा विधायक रजनीश सिंह, महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष हर्षिता पांडेय, पूर्व सांसद लखनलाल साहू समेत संगठन के पदाधिकारी कार्यकर्ताओं की भीड़ लेकर पहुंचे। इस दौरान नेहरु चौक में सभा हुई। फिर भाजपाइयों ने कलेक्टोरेट तरफ कूच किया। भाजपा नेता अमर अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार ने चुनाव के पहले जितने भी वादे किए थे, उसे पूरा नहीं किया गया है। अब जनता के साथ ही प्रदेश के कर्मचारी सरकार के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं, तो उसे कुचलने की कोशिश की जा रही है। यही वजह है कि सरकार ने निजी, सार्वजनिक, धार्मिक, सामाजिक, राजनैतिक कार्यक्रमों जैसे आयोजनों के लिए अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया है। लेकिन, भाजपा राज्य सरकार के इस आदेश को मानने के लिए तैयार नहीं है। विधानसभा चुनाव आने तक अब भाजपा इसी तरह से सरकार के खिलाफ आंदोलन और विरोध प्रद्रर्शन करेगी। इसके लिए नेता व कार्यकर्ता जेल जाने के लिए भी तैयार हैं। कलेक्टोरेट से पहले पुलिसकर्मियों ने नारेबाजी करते पहुंचे भाजपा कार्यकर्ताओं को रोक दिया। इस दौरान पुलिसकर्मियों से झूमाझटकी और धक्कामुक्की शुरू हो गई। भीड़ में धक्कामुक्की के बीच एक युवक ने पुलिसकर्मी को जोरदार तमाचा जड़ दिया। इसके बाद पुलिस कर्मी ने भी उस पर लाठी चलाई। वहीं, दूसरे पुलिसकर्मी भी उग्र हो गए और भाजपाइयों को धक्का देने लगे। हालांकि, वहां मौजूद पुलिस अफसरों ने मामले को संभाल लिया। फिर धक्कामुक्की के बीच मामला शांत हो गया।

error: Content is protected !!