August 2, 2021

मोदी जी की निर्मित विपदाओं से देश की जनता परेशान- सुबोध कांत सहाय

रायपुर/ पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के कद्दावर नेता सुबोध कांत सहाय ने देश में बढ़ती महंगाई के खिलाफ केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. दो दिवसीय दौरे पर रायपुर पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. उन्होंने कहा कि, मोदी सरकार ने बिना सोचे समझे नोटबंदी की, बिना विशेषज्ञों से बातचीत किए जीएसटी जनता पर थोप दिया. आज इसका भुगतान आम जनता को करना पड़ रहा है. हालात यह है कि, बढ़ती महंगाई की वजह से पिछले 7 सालों में 23 करोड़ लोग, गरीबी रेखा से नीचे चले गए हैं. उन्होंने मोदी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि, महंगाई से मुंह मत मोड़ो, कम नहीं कर सकते तो गद्दी छोड़ो.

वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुबोध कांत सहाय ने केंद्र सरकार पर लगातार कई प्रहार किए. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार बेपरवाह हो चुकी है. उन्हें बेपरवाह सरकार कहें तो अतिश्योक्ति नहीं होगी. क्योंकि महंगाई से आम जनता त्रस्त हैं. लोगों के पास पैसे नहीं है, यदि सरकार में थोड़ी ईमानदारी होती तो वह जनता को नगदी देने की बात करती. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में दो करोड़ लोगों ने नौकरी गंवाई है, जो नौकरी कर रहे हैं वह भी कम वेतन में काम करने को मजबूर हैं.

सुबोध कांत सहाय ने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर भी हमला बोला है. उन्होंने कहा कि पेट्रोल के दाम 100 रुपये के पार चला गया है और खाने का तेल 200 रुपये के पार हो गया है. एलपीजी गैस की कीमत 900 रुपये तक पहुंच गई है. मोदी सरकार ने एक जनवरी 2021 से 7 जुलाई 2021 तक ही पेट्रोल- डीजल की कीमत 69 बार बढ़ाई है. जबकि मोदी सरकार ने अप्रैल 2014 से जून 2021 तक 25 लाख करोड़ एक्साइज ड्यूटी में कमाया है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पिछले 7 साल में पेट्रोल पर एक्साइज ड्यूटी 258 % और डीजल पर 820 % बढ़ाई है, लगातार बढ़ती पेट्रोल- डीजल की कीमतों की वजह से जनता का बुरा हाल है.

error: Content is protected !!